पत्र-लेखन/ Class 10 Hindi (grammar)/ 2021

Rate this post

Attention Please!

नमस्कार, सभी को फिर से एक बार हमारे लेख पर स्वागत है, इस लेख पर पत्र-लेखन के बारे मे लिखा गया है।
7 प्रकार के यहाँ पर लेख देखने को मिलेगा । साथ ही आपको क्लास १० के अनन्यो बोहोत सारे आर्टिकल के लिंक भी देखने को मिलेगा।




पत्र-लेखन/ Class 10 Hindi (grammar)/ 2021



पत्र-लेखन


(ख)  अनुशीलन के लिये कुछ पत्र निचे दिये गये हैं 

1. माता की ओर से पुत्री को पत्र






गुवाहाटी,
दिनांक : ………….




प्रिय अनुष्का, 
सदैव प्रसन्न रहो।
आज प्रातःकाल की डाक से तुम्हारा पत्र प्राप्त हुआ। यह जानकर बेहद प्रसन्नता हुई की तुम स्वस्थ एवं सुखी हो। 

प्रिय बेटी, एक बात हमेशा याद रखना कि अब तुम्हारा वास्तविक घर ससुराल ही है। अत: ससुराल वालों को प्रसन्न रखने से ही तुम्हारा जीवन शान्तिपूर्वक बीतेगा। 

जीवन में सेवाभाव ही मानव का सबसे बड़ा धर्म है। इस बात को कभी भी मत भूलना। बड़ों को सादर नमस्कार तथा बालकों को ढेर सारा प्यार।


तुम्हारी माताजी,
उषा रानी शर्मा 







२. रुपये भेजने के लिए पिता को पत्र






तेजपुर,
दिनांकः…………….



आदरणीय पिताजी, 
सादर प्रणाम। 

मैं यहाँ पर कुशलपूर्वक हूँ, आशा करता हूँ कि आप भी सपरिवार प्रसन्न एवं सानन्द होंगे। सम्भवतः मेरी परीक्षा अगले सप्ताह समाप्त हो जायेगी।

प्रसन्नता का विषय यह है कि हमारे कॉलेज के विद्यार्थी ऐतिहासिक इमारतों का अवलोकन करने के लिए आगरा जा रहे हैं। इस कार्यक्रम का निर्धारित समय आठ दिन है। 

मेरी भी यह हार्दिक इच्छा है कि मैं भी कॉलेज की टीम के साथ, जाकर अपनी ऐतिहासिक ज्ञान की वृद्धि करूँ।

यदि आपका आदेश हो, तो मैं भी इस दल के साथ पर्यटन के लिए चला जाऊँ। मार्ग,व्यय के लिए दो सौ रुपये की आवश्यकता है। 

अतः आपसे सानुरोध प्रार्थना है कि मनीऑर्डर द्वारा उक्त राशि भेजने का कष्ट करें। पल्लव एवं अक्षय को ढेर सारा प्यार, माताजी को सादर प्रणाम।




आपका प्रिय पुत्र,
अनिल कुमार 








३. प्रधानाध्यापक को छुट्टी के लिए आवेदन-पत्र [HSLC-2016, 19]




सिलचर
दिनांक: ………. 


श्रीमान प्रधानाध्यापक महोदय, 
राजकीय उच्च विद्यालय, 
सिलचर 
मान्यवर,

सेवा में प्रार्थना यह है कि मैं गत बुधवार से ज्वर से ग्रसित हूँ। बुखार के प्रकोप से मैं इतना दुर्बल हो गया हूँ कि अगले आठ दिन तक विद्यालय में उपस्थित होने में असमर्थ हूँ। अतः आपसे सानुरोध प्रार्थना है कि मुझे दिनांक 15-2-20… से 22-2-20… तक का बीमारी का अवकाश प्रदान करने को कृपा करें।



आपका आज्ञाकारी छात्र,
पल्लव दास 
कक्षा-X (B)









४. पुस्तकों के लिए आवेदन-पत्र






रूपनगर,
दिनांक: ………


सेवा में, 
पुस्तक व्यवस्थापक ज़ी, 
असम राष्ट्रभाषा प्रचार समिति 
गुवाहाटी-32 
प्रिय महोदय,


यदि आप निम्नलिखित पुस्तकों को वी.पी. द्वारा अविलम्ब भेजने की कृपा करेंगे, तो मैं विशेष रूप से आभारी होऊँगा।

1. हिन्दी किरण भाग-3 : तीन प्रतियाँ 
2. व्याकरण प्रभा : पाँच प्रतियाँ 
3. हिन्दी व्याकरण और रचना : पाँच प्रतियाँ


भवदीय,
अमल कुमार,
बोंगाईगाँव







५.मित्र को ग्रीष्मावकाश में अपने यहाँ बुलाने के लिए पत्र






जोरहाट,
दिनांक:……….



प्रिय पल्लव, 
सप्रेम नमस्ते।

मैं यहाँ पुरी तरह से स्वस्थ एतं आनन्दपूर्वक हूँ। आशा ही नहीं अपितु पूर्णरूपेण विश्वास है कि तुम सपरिवार प्रसन्न एवं स्वस्थ होगे। 

ग्रीष्मावकाश में मेरा देहरादून जाने का विचार है। गर्मी में वहां का वातावरण एवं मौसम मनोरम एवं मनभावन होता है। 

यदि तुम भी मेरे साथ चलो, तो दिनांक 27-7-20… को आने का कष्ट करो। साथ-साथ घूमना एवं प्राकृतिक दृश्यों को देखना बहुत अच्छा प्रतीत होता होगा।

माताजी एवं पिताजी को सादर प्रणाम एवं छोटों को ढेर सारा प्यार कहना। आशा है, पधारकर कृतार्थ करोगे।




तुम्हारा मित्र,
बिमल कुमार







६. विद्यालय छोड़ने पर प्रमाण-पत्र





सेवा में, 
श्रीमान प्रधानाचार्य महोदय, 
सेन्ट जॉन्स स्कूल, 
नई दिल्ली ,
मान्यवर, 

मैंने इस सत्र कक्षा 9 की परीक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की है। अब कक्षा 10 में डी.ए.वी. स्कूल में दाखिला लेना चाहता हूँ। कृपया मुझे विद्यालय छोड़ने का प्रमाण-पत्र यथाशीघ्र प्रदत्त करने की अनुकम्पा करें। 

सधन्यवाद!

20, रिंग रोड, नई दिल्ली



आपका आज्ञाकारी शिष्य,
संदीप कुमार






७. पत्र-पत्रिका में लेख छापने के लिए पत्र 




मान्यवर सम्पादक जी, 
सादर नमस्कार।

मुझे इस बात की प्रसन्नता है कि आपने अपनी जानी-मानी पत्रिका में अनेक बार मेरे लेखों को प्रकाशित किया है। 

सर्वप्रथम इस सन्दर्भ में मेरा हार्दिक धन्यवाद स्वीकार कीजिए। आगे मैं अक्टूबर अंक के लिए सामयिक विषय पर लिखा हुआ एक सारगर्भित निबन्ध भेज रहा हूँ। 

मुझे आशा ही नहीं, अपितु पूर्ण विश्वास है कि इसे अपनी पत्रिका में समुचित स्थान देकर अनुग्रहीत करेंगे। मेरे योग्य अन्य कोई सेवा हो, तो सूचित करें।

सधन्यवाद!



भवदीय
अनूप शर्मा




Conclusion:
कोई भी सवाल जवाब के लिए निचे कमेंट करें।
Wrote by Akshay

Leave a Comment

সমাজ সংগঠনত ছাত্ৰৰ ভূমিকা ৰচনা – 2023 শফালী বাৰ্মা জীৱনী | Shafali Verma Indian Women Cricketer মিতালী ৰাজ জীৱনী | Mithali Raj Biography Women Cricketer ভাৰতীয় ডাকঘৰ নিয়োগ 2023 | 40889 খালী পদৰ বাবে আবেদন কৰক বাল্য বিবাহঃ অসমত গণ গ্ৰেপ্তাৰ, ১৮০০ ৰো অধিক গ্ৰেপ্তাৰ প্ৰবীণ গায়িকা বাণী জয়ৰামৰ মৃত্যু হয়, পদ্মভূষণ বঁটা পোৱাৰ কেইদিনমান পিছত साउथ के सुपरस्टार Thalapathy 67 का बताया Tittle फ्लिम का Vadh | नए फ्लिम “वध” कब Release हो रहा हे UPSC 2023 Notification | ইউপিএছচি অসামৰিক সেৱা পৰীক্ষা 2023 Thunivu OTT release date ভাৰিচু আৰু থুনিভু অ’টিটি ত মুক্তি Padma Awards 2023 পদ্ম বঁটা বিজয়ীসকলৰ সম্পূৰ্ণ তালিকা (GK) Indian Railways १७८५ वैकेंसी का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए बड़ा मौका है। himanta biswa sarma marriage | Assam Chief Minister Essay on Discipline | Story dharitri assam land records online ভূমিৰেকৰ্ড কেনেদৰে পৰীক্ষা কৰিব? CA Foundation result | চিএ ফাউণ্ডেচন ফলাফল মুকলি কৰা হৈছে Bihu Essay in Assamese [বিহু ৰচনা]